पीएम मोदी के “रेनकोट” वाले बयान पर राज्यसभा में बवाल, विपक्ष ने की माफी की मांग

बीते दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर की गई टिप्पणी को लेकर पूरा विपक्ष एकजुट हो गया है. विपक्ष ने फैसला किया है कि प्रधानमंत्री जब भी सदन में आएंगे, उन्हें बोलने नहीं दिया जाएगा. पीएम मोदी की तरफ से मनमोहन पर दिए गए बयान पर आज राज्यसभा में विपक्ष ने जमकर हंगामा किया. पीएम मोदी के खिलाफ विपक्ष ने जमकर नारेबाजी की.

 

पहले पीएम मोदी के खिलाफ विपक्ष ने जमकर नारेबाजी की जिसके बाद राज्यसभा की कार्यवाही पहले 12 तक और उसके बाद 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई है. विपक्ष लगातार यह मांग कर रहा है कि प्रधानमंत्री मोदी मनमोहन सिंह पर अपनी “रेनकोट” वाली टिप्पणी वापस लें और माफी मांगें. विपक्ष प्रधानमंत्री की टिप्पणी की सदन की कार्यवाही से निकालने की मांग भी कर रहा है.

कल प्रधानमंत्री के राज्यसभा में दिए “रेनकोट” वाले बयान से कांग्रेस ने भाषण के दौरान ही सगन छोड़ दिया था. अब पूरा विपक्ष उसके साथ आ गया है. वहीं कल देर रात कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर पीएम मोदी पर निशाना साधा था.

राहुल ने ट्वीट कर कहा कि, ”प्रधानमंत्री ने किसी और तुलना में कहीं ज्यादा खुद ही पद की गरिमा की गिराई है, आज का घटनाक्रम स्पष्ट रूप से शर्मनाक हैं.’

कल मोदी ने राज्यसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर जारी बहस का जवाब देते हुए कांग्रेस पर निशाना साधा था. पीएम मोदी ने इस दौरान पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को घेरते हुए कहा था, ‘’बाथरूम में रेन कोट पहनकर नहाना ये कला तो डॉक्टर साहब ही जानते हैं और कोई नहीं जानता.’’ मनमोहन पर मोदी के इसी वार से कांग्रेस तिलमिला गई है. मोदी ने कहा, ‘’पिछले 30-35 साल भारत के आर्थिक निर्णयों में उनकी अहम भूमिका रही है. हिंदुस्तान के 70 साल में आधा समय एक ही व्यक्ति का दबदबा रहा. कितने घोटालों को बात आयी. इतना सारा हुआ, उन पर एक दाग नहीं लगा. बाथरूम में रेन कोट पहनकर नहाना ये कला तो डॉक्टर साहब ही जानते हैं और कोई नहीं जानता.’’