पाकिस्तान नहीं मानेगा ICJ का आदेश, कुलभूषण जाधव को कांसुलर एक्सेस देने से इंकार

नयी दिल्ली : पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ के सलाहकार सरताज अज़ीज़ ने कहा की पाकिस्तान भारतीय जासूस कुलभूषण जाधव को कांसुलर एक्सेस नहीं देगा चाहे अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय कोई भी फैसला सुनाये.

kulbhooshan jadhav

अज़ीज़ का कहना है की पाकिस्तान को अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय में अपना पक्ष रखने का पर्याप्त समय नहीं मिला था जिसकी वजह से वह भारतीय वकीलों का जवाब नहीं दे पाए. पाकिस्तान फिर से वकीलों की एक टीम गठित करेगा जो इस मामले पर फिर से सुनवाई करेंगे.

उन्होंने यह भी कहा की जजों की 11 सदस्यीय टीम में भारत का एक प्रतिनिधि था जबकि पाकिस्तान की तरफ से ऐसा कोई नहीं था.
इससे पहले भी पाकिस्तान की तरफ के प्रेस रिलीज़ जारी कर के यह कहा गया था कि अंतर्राष्ट्रीय कोर्ट का कोई भी फैसला कुलभूषण यादव पर पाकिस्तान के रुख को नहीं बदल सकता.

क्या है मामला

आपको मालूम हो कि पाकिस्तान कुलभूषण यादव को भारतीय जासूस मानता है जो कि भारत के पूर्व नौसेना के अधिकारी हैं. पाकिस्तान की एक आर्मी अदालत ने कुलभूषण जाधव को फांसी की सजा सुनाई है जिसपर भारत यह मामला अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय में ले गया. अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय ने इस केस की सुनवाई करते हुए भारत के पक्ष में फैसला दिया और कुलभूषण जाधव की फांसी पर रोक लगा दी.

पाकिस्तान ने अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय में इस केस की फिर से सुनवाई के लिए अर्जी दायर की है हालाँकि की कोर्ट ने इस अर्जी पर अबतक कोई जवाब नहीं दिया है|