Panch devta kaun hain?

हमारे शास्त्रों में देव के नित्य पूजन का विधान बताया गया है। परंतु भाग दौड़ भरे जीवन में यह अब संभव नहीं रहा। बहुत लोग तो जानते भी नहीं होंगे कि पंच देव कौन – कौन से हैं। सर्वविदित है कि हमारा शरीर पंच तत्वों से निर्मित है तथा पांचों तत्वों के एक – एक देवता हैं। यह पांचों तत्व और उनके देवता निम्न प्रकार है।

Panch devta kaun hainजल तत्व – जल तत्व के देवता शिवजी है, जल तत्व के द्वारा ही हमें ज्ञान की प्राप्ति होती है साथ ही मन की शांति भी इसी तत्व से मिलती है.

अग्नि तत्व – अग्नि तत्व के देवता सूर्य देव बताये गए है. अग्नि से हमारा स्वास्थ्य संबंधित होता है. निरोगी काया के लिए भगवान सूर्य की स्थापना करें।

आकाश तत्व – आकाश तत्व के स्वामी विष्णु भगवान है आकाश तत्व प्रेम से संबंध रखता है.

पृथ्वी तत्व – पृथ्वी तत्व के देवता गणेश जी है, जींदगी में स्थयित्व व् विघ्न नाश के लिए गणेशजी की उपासना करे.

वायु तत्व – वायु तत्व माता पार्वती के अधीन है, धन सम्पदा के लिए माँ पार्वती की पूजा करे.

जीवन के लिए सर्वप्रथम जल की आवश्यकता होती है। इसीलिए प्रथम पूज्य गणेश जल के अधिश्ठात्र देवता है। वायु साक्षात् विष्णु देवता से संबंधित तत्व है। शंकर पृथ्वी तत्व, देवी अग्नि तत्व तथा सूर्य आकाश तत्व के देवता हैं। इस प्रकार इन पांच देवता का पूजन कर हम अपने आपका ही पूजन करते हैं।

शास्त्रों के अनुसार पांच प्रमुख देवता माने गए हैं। किसी भी शुभ कार्य की शुरूआत और पूर्णता के लिए इनकी पूजा करना अनिवार्य मानी गई है। इन पंच देवी-देवताओं की विधिवत पूजा करने से कार्य निर्विघ्न पूर्ण हो जाता है।

 

हिंदी वार्ता से जुडें फेसबुक पर-अभी लाइक करें

 
Ritu
ऋतू वीर साहित्य और धर्म आदि विषयों पर लिखना पसंद करती हैं. विशेषकर बच्चों के लिए कविता, कहानी और निबंध आदि का लेखन और संग्रह इनकी हॉबी है. आप ऋतू वीर से उनकी फेसबुक प्रोफाइल पर संपर्क कर सकते हैं.