पहली बार अखिलेश और मायावती कर सकते है एक साथ रैली

लखनऊ: जो इतिहास में कभी नहीं हुआ अब होगा अखिलेश यादव और मायावती एक साथ रैली साझा कर सकते है| अभी कुछ दिन पहले ही कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी ने सभी विपक्षी डालो को लंच पर बुलाया था| जिसमे सभी विपक्षियों ने एक-दूसरे के साथ रैली साझा करने की बात कही| मौजूदा वक्त में भाजपा को हराने के लिए सभी विपक्ष दलों का एक होना जरुरी है|

पहली बार अखिलेश और मायावती कर सकते है एक साथ रैली

सोनिया गाँधी के लंच में अखिलेश और मायावती आये साथ

शुक्रवार को सोनिया गाँधी के लंच के बाद हुई मीटिंग में राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने सभी भाजपा विरोधी दलों को गठबंधन बनाने के लिए कहा| समाजवादी पार्टी के सांसद नरेश अग्रवाल ने पुष्टि की. कि सभी भाजपा विरोधी दलों ने साँझा रैलिया करने पर सहमति जताई है| उन्होंने आगे कहा इस समय भारतीय जनता पार्टी का सामना करने के लिए एक संयुक्त विपक्ष की जरुरत है|

27 अगस्त को बिहार के पटना में राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव की एक रैली आयोजित की जाएगी| जिसके बाद उत्तर प्रदेश में एक रैली आयोजित होनी है| हालाँकि अभी तक बसपा रैली को लेकर किसी भी बसपा नेता से बात नहीं हो पाई है| केलिन सूत्रों के अनुसार बसपा प्रमुख ने कहा है कि वो विपक्ष के साथ सौ प्रतिशत है| उन्होंने कहा इस समय विपक्ष की एकता मौजूदा समय की मांग है| हम सबको मिलाकर भाजपा के खिलाफ लड़ाई करनी है|