60 साल की उम्र में पर्यावरण मंत्री अनिल दवे का निधन, पीएम ने जताया दुःख

केंद्र सरकार के केबिनेट मंत्री और मौजूदा पर्यावरण मंत्री अनिल दवे का निधन हो गया है| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे निजी छति बताई है| अभी बुधवार रात को ही तो पीएम मोदी के साथ बैठक में थे अनिल माधव दवे| अनिल मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी के बड़े चेहरे में से एक थे| 5 जुलाई, 2016 को दवे ने मंत्रिपद की सपथ ली थी|

अनिल दवे के निधन पर प्रधानमंत्री मोदी ने किया ट्वीट

नरेंद्र मोदी ने अनिल जी के निधन पर शोक जताया है| उन्होंने कहा मैने एक आदर्श साथी और दोस्त खो दिया है| उनकी मौत से मुझे अपर निजी छति पहुंची है| मै भगवान से उनकी आत्मा की शांति की प्रार्थना करता हूँ| कल शाम की बैठक में वो मेरे साथ थे| हम दोनों ने साथ मिलकर कुछ पॉलिसीज पर चर्चा भी की थी| उनका राजनीती और लोक कल्याण में दिए गए अमूल्य योगदान को याद रखा जायेगा|

काफी बीमार चल रहे थे अनिल दवे

अनिल माधव दवे काफी समय समय से बीमार चल रहे थे| एम्स में उनका इलाज चल रहा था| प्राप्त जानकारी के अनुसार पिछले दो सदन से दवे संसद में भी नहीं आ रहे थे| उनकी जगह केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर उनका पदभार संभल रहे थे| मैडिकल विंग में वो चेकअप के लिए आते रहते थे| उनकी स्थिति मंत्रालय में आकर कामकाज सँभालने की नहीं थी| फिर भी कई बार आ जाते थे और काम देखते थे|