बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान ने सोमवार को मुंबई में 75 वें मास्टर दीनानाथ मंगेशकर पुरस्कार समारोह में भाग लिया| उन्हें आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत से पुरस्कार मिला। खान को सर्वश्रेष्ठ फिल्म दंगल के लिए विशेष पुरस्कार मिला| कपिल देव को भारतीय क्रिकेट में उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए सम्मानित किया गया। महान अभिनेत्री व्यजयन्तीमाला बाली को हिंदी सिनेमा में उनकी उपलब्धियों के लिए मास्टर दीनानाथ विशेष पुरस्कार नवाजा गया|

आमिर खान के प्रशंसकों के लिए ख़ुशी

यह आमिर के प्रशंसकों के लिए सुखद दिख रहा था क्योंकि उन्हें 16 सालों में पहली बार पुरस्कार समारोह में शामिल होने का मौका मिला था। ‘पीके’ अभिनेता ने 16 साल पहले ओस्कर में एक पुरस्कार समारोह में भाग लिया था| जब लगान को सर्वश्रेष्ठ फिल्म श्रेणी में नामांकित किया गया था। अभिनेता और दाएं-विंग ग्रुप के मुख्य साझाकरण मंच को भी देखना दिलचस्प था. क्योंकि दोनों के देश में ‘असहिष्णुता’ के मुद्दे पर परस्पर विरोधी विचार थे।

मुंबई में आमिर खान को आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत से पुरस्कार मिला

2015 में आमिर ने कहा था कि पिछले छह या आठ महीनों में असुरक्षा और भय की भावना बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि उनकी पत्नी किरण ने विदेश में रहने के बारे में पूछा था। जब मैं किरण के साथ घर पर बातचीत करता हूं| तब वह कहती है, ‘क्या हमें भारत से बाहर जाना चाहिए?’ वह अपने बच्चे के लिए डरते हैं। वह हमारे चारों ओर के माहौल के बारे में डरते है। वह हर दिन समाचार पत्रों को खोलने से डरती है|

आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि ‘असहिष्णुता‘ टिप्पणी उन लोगों द्वारा की जाती है| जो अपनी मातृभूमि की परवाह नहीं करते हैं और इस बात से अनजान हैं कि यह राष्ट्र के चरित्र को कैसे बदनाम कर सकता है। कांग्रेस और कई अन्य राजनीतिक दलों ने अक्सर आरएसएस पर लोगों के बीच “घृणा” फैलाने की अपनी शाखाओं का आरोप लगाया है। संगठन का भारत में एक विवादास्पद प्रोफाइल रहा है|

हिंदी वार्ता से जुडें फेसबुक पर-अभी लाइक करें

 
Pankaj Sharma
देश की राजनीति से जुडी ख़बरों पर कड़ी नजर रखते हैं. फिल्में देखने का है शौक. नयी जगहों पर घूमना अत्याधिक पसंद