मुंबई एटीएस द्वारा कांग्रेस ने मुझे आतंकी बनाना चाहा: साध्वी प्रज्ञा

2008 मालेगांव विस्फोट के मामले में जेल से रिहा होने के बाद अपनी पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस में साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने आरोप लगाया कि उनपर मुंबई एटीएस द्वारा ‘भगवा आतंकवाद‘ में उनकी भूमिका से सहमत होने के लिए काफी अत्याचार किया गया था।

गिरफ़्तारी से पहले मै पूरी तरह फिट थी- साध्वी प्रज्ञा

साध्वी प्रज्ञा की प्रेस कॉन्फ्रेंस

साध्वी ने कहा -मैं पिछले नौ वर्षों से जेल में थी| मुझे अपने विचार व्यक्त करने का कोई मौका नहीं मिला। 2008 में मेरी गिरफ्तारी कांग्रेस द्वारा एक बड़ी साजिश रची गई थी| मैं साजिश के काले समुद्र से वापस लड़कर आयी हूँ। प्रज्ञा ने देश में ‘भगवा आतंक‘ के अस्तित्व का दावा करने के लिए पी चिदंबरम की भी आलोचना की। नौ साल का अन्याय. यह स्पष्ट है कि यह कांग्रेस की साजिश है और यह निश्चित है कि वर्तमान सरकार कोई साजिश नहीं करेगी और न्याय सुनिश्चित करने का प्रयास करेगी।

जब संवाददाताओं ने पूछा कि मोदी सरकार आपकी रिहाई हासिल करने में भूमिका निभा सकती है| तो उनके वकील ने हस्तक्षेप किया और कहा, यह सर्वोच्च न्यायालय था जिसने 12 अप्रैल, 2015 को उनके (साध्वी प्रज्ञा) खिलाफ मकोका आरोप हटा दिए। इसमें सरकार का कोई हस्तक्षेप नहीं है| मुंबई एटीएस के तत्कालीन सदस्यों के खिलाफ गंभीर आरोप बनाते हुए साध्वी प्रज्ञा ने दावा किया कि 10 अक्टूबर, 2008 को एटीएस से उन्हें अवैध रूप से गिरफ्तार किया और मुंबई ले जाया गया।

उन्होंने आरोप लगाया कि उन्होंने मुझे अवैध रूप से हिरासत में रखा और मुझे 13 दिनों तक यातना दी। खानविलकर, परमबीर सिंह, हेमंत करकरे – सभी लोगो ने मुझपर अत्याचार किया| आजादी के पहले या बाद में कभी भी एक महिला पर ऐसा अत्याचार नहीं हुआ, जैसा मैंने सहा था-साध्वी प्रज्ञा ने कहा।

गिरफ़्तारी से पहले मै पूरी तरह फिट थी- साध्वी प्रज्ञा

गिरफ़्तारी से पहले मै पूरी तरह फिट थी- साध्वी प्रज्ञा

मैं अपनी गिरफ्तारी के पहले शारीरिक रूप से फिट थी| अब मैं अक्षम हूं क्योंकि मुंबई एटीएस की यातना सहन करने के कारण। यहां तक ​​कि मेरे फेफड़ों को भी क्षतिग्रस्त कर दिया गया और मुझे पांच दिनों के लिए वेंटिलेटर पर रखा गया था। साध्वी ने कहा कि वह एटीएस द्वारा शारीरिक रूप से ‘टूटी’ थीं. लेकिन वे मानसिक रूप से नहीं तोड़ सकते, क्योंकि वह एक संन्यासी है| उन्होंने कहा केवल मेरी मानसिक ताकत के कारण मैं यहां आपके सामने हूं| अन्यथा कांग्रेस ने मुझे खत्म करने की योजना बनाई थी।

एक साध्वी के रूप में मैं उन लोगों को क्षमा करती हूं| जिन्होंने अनजाने मेरे साथ गलत किया था, लेकिन मैं उन लोगों को कभी भी माफ़ नहीं करुँगी. जिन्होंने इसे जानबूझ किया।