मुसलमानो के बारे में झूठी अफवाह फैला रहा था यह शख्स, पुलिस ने किया एक्सपोज़

शामली : सोशल मीडिया के इस दौर में अफवाहों की वजह से आये दिन इंसान मारे जा रहे हैं. ऐसे ही एक केस में शामली पुलिस ने एक अफवाह फ़ैलाने वाले को एक्सपोज़ किया.

दरअसल हुआ यूँ की अभिषेक गुप्ता नाम का यह शख्स ट्विटर पर यह अफवाह फैला रहा था कि मुस्लिमों ने शामली में एक थाना फूंक दिया है तथा दलितों को नंगा कर घुमाया गया है. यह सब अखिलेश यादव के कहने पर पुलिस की देख रेख में हुआ और इस पर पुलिस ने कोई एक्शन नहीं लिया.

shamli rumor

युवक योगी आदित्यनाथ से इस घटना पर एक्शन लेने की गुजारिश भी कर रहा है. जाहिर है ऐसा पोस्ट पढ़ कर किसी का भी खून खौल जाए.

इससे पहले की सोशल मीडिया पर जहर फैलता, शामली पुलिस ने इस नापाक हरकत को बेनकाब कर दिया.

पुलिस ने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट कर यह बताया कि ऐसी कोई घटना नहीं हुई है और यह बात कोरी बकवास है जिसे समाज का सद्भाव बिगाड़ने के उद्देश्य से फैलाया जा रहा है.

 

हालाँकि पुलिस की तत्परता ने इस घटिया हरकत को नाकाम कर दिया परन्तु आये दिन ऐसी अफवाहें समाज में जहर घोलने का काम कर रही हैं और शासन व्यवस्था इससे निपटने के लिए अब तक कोई कारगर तरीका नहीं ढूंढ पाया है.

हालाँकि लोगों के अनुसार पुलिस का इन लोगों पर सख्त एक्शन न लेना ऐसी अफवाहों के उड़ने की एक बड़ी वजह है.