जयललिता की करीबी शशिकला का तमिलनाडु का मुख्यमंत्री बनना तय, पनीरसेल्वम का त्यागपत्र

तमिलनाडु से पिछले कुछ दिनों से जैसी राजनीतिक खबरें आ रही थीं उनमें लगातार ये कयास लगाए जा रहे थे कि  तमिलनाडु की आल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम सरकार में मुख्यमंत्री पद में बदलाव हो सकता है और पार्टी की महासचिव शशिकला वर्तमान मुख्यमंत्री पनीरसेल्वम की जगह स्वयं मुख्यमंत्री बन सकती हैं, वैसा ही हुआ. आज रविवार को ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (AIADMK) के एमएलए बैठक में महत्वपूर्ण घटनाक्रम में पनीरसेल्वम ने मुख्यमंत्री पद से त्यागपत्र दे दिया है. इसके बाद विधायक दल ने सर्वसम्मति से शशिकला को विधायक दल का नेता चुनने का प्रस्ताव पारित कर दिया.

Shashikala to be tamilnadu CM Paneerselvamहालांकि अभी विधायक दल की एक और बैठक बुलाई गई है. यह बैठक जल्द ही होगी और इस बैठक में शशिकला को मुख्यमंत्री बनाने के फैसले पर मुहर लगाई जायेगी.

पूर्व में इस तरह की खबरें आ रही थीं कि रविवार को होने वाली इसी बैठक में शशिकला को मुख्यमंत्री बनाने का एलान कर दिया जायेगा किन्तु आज सुबह बताया गया कि शशिकला अभी मुख्यमंत्री पद नहीं संभालना चाहती और फिलहाल पनीरसेल्वम ही मुख्यमंत्री बने रहेंगे. खैर, दोपहर होते होते खबर बदल गयी और पार्टी की और शशिकला के भावी मुख्यमंत्री बनाये जाने की खबर की पुष्टि कर दी गयी है.

स्वर्गीय जयललिता की करीबी रही शशिकला के मुख्यमंत्री बनाने की बात काफी पहले से चल रही थीं. और उन्हें पार्टी और जनता में जयललिता का स्वाभाविक उत्तराधिकारी भी माना जा रहा था. शशिकला जहाँ पार्टी में काफी लोकप्रिय और प्रभावशाली हैं वहीँ उनके विरोधियों की संख्या भी काम नहीं है. खासकर उनके खिलाफ अदालत में चल रहे  आय से अधिक संपत्ति मामले को लेकर उनको पार्टी का नेतृत्व सौंपने को लेकर पार्टी का एक धड़ा उनके खिलाफ है.

इसी बीच ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (AIADMK) की तमिलनाडु में विरोधी पार्टी अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (DMK) के नेता स्टॅलिन ने शशिकला के भावी मुख्यमंत्री बनने की ख़बरों पर तीखी प्रतिक्रिया दी है. स्टॅलिन ने कहा कि तमिलनाडु के लोगों ने पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता के घर-परिवार के सदस्यों को मुख्यमंत्री बनाने के लिए वोट नहीं दिया था। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी शशिकला के मुख्यमंत्री बनने की स्थिति में लोकतान्त्रिक रूप से पूरे प्रदेश में पुरजोर विरोध करेगी.