Advertisement

Shraddh ka bhajan karvate samay kin kin baton ka dhyan rakhna chahiye?

उत्तर: श्राद्ध का अन्न खाने वाले व्यक्ति को लोहे यानि स्टील के बर्तन में खाना नहीं खिलाना चाहिए। पत्तल, चांदी के बर्तन में खिला सकते हैं। श्राद्ध में ब्राहमणों को बैठाकर पैर धोना चाहिए। पैर धोते समय पत्नी दहिनी तरफ होनी चाहिए। श्राद्ध के समय व्यापारी, नास्तिक, पूजा पाठ न करने वाले, एक आंख वाला, अंधा व्यक्ति, शुल्क लेकर पढाने वाले, नपुंसक, कुश्ती सिखाने वाले ब्राहमणों को त्याग देना चाहिए। श्राद्ध के समय प्याज, चना, मसूर दाल, उड़द के बडे, सत्तू, मूली, काला जीरा, खीरा, काला उड़द, काला नमक, लौकी, कुम्हड़ा, काली सरसों की पत्ती, गला सडा फल व अन्न नहीं खिलाना चाहिए। ऐसा विष्णु, ब्रहामण्ड मत्स्य, वायु व कूर्म पूराण आदि में लिखा हुआ है।

 

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here