135 करोड़ की दिवाली मानाने के बाद बोले योगी, ये मेरी निजी आस्था का मामला है आप हस्क्षेप नहीं कर सकते

Advertisement

उत्तरप्रदेश में दिवाली पर हुए बेतहाशा खर्च पर विपक्ष के निशाने पर आये उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या पर बयान देते हुए कहा है कि यह मेरे निजी आस्था का मामला है और इसपर कोई कैसे प्रश्न उठा सकता है.

Ayodhya
AYODHYA, OCT 18 (UNI)- Ghats of River Saryu illuminated with 1.71 Lakh Diyas during ‘Deepotsav’ by Uttar Pradesh Governor Ram Naik and Chief Minister Yogi Aditya Nath, on the occasion of Deepawali the festival of lights in Ayodhya on Wednesday. UNI PHOTO-57u

उन्होंने विपक्ष को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कोई किसी के निजी आस्था पर सवाल कैसे उठा सकता है.

Advertisement

इसपर आगे बोलते हुए कहा कि मैं उत्तरप्रदेश का मुख्यमंत्री हूँ और राज्य के हरेक कोने का विकास करना मेरा कर्तव्य है. एक मंदिर में पूजा अर्चना करने के बाद योगी ने बताया कि अयोध्या में उनका आगमन का उद्देश्य अयोध्या समेत प्रदेश के लिए शांति और सुरक्षा के लिए पूजा करना है.

आपको बता दें कि अयोध्या में इस बार बड़े स्तर पर दिवाली का आयोजन हुआ जिसमें हेलीकाप्टर से भगवान राम सीता और लक्ष्मण को उतारा गया वहीँ दुसरे हेलीकाप्टर से पुष्प वर्षा की गयी. साथ ही 1.7 लाख दीयों को एक साथ रौशन कर के विश्व रिकॉर्ड भी स्थापित किया गया.

Advertisement
youtube shorts kya hai
after diwali
अयोध्या में दिवाली के अगले दिन बचे हुए दीयों से तेल निकालते बच्चे. इसे बेच कर वो अपने परिवार की भूख मिटाएंगे

परन्तु इस पूरे कार्यक्रम में कर दाताओं का पैसा प्रयोग हुआ और सवाल उठ रहे हैं कि 134 करोड़ की दिवाली मानाने से पहले योगी अपने प्रदेश की हालत पर ध्यान देते तो ज्यादा अच्छा होता.

gorakhpur
A large number of children admited at ICU for encephalitis treatment ,At least 30 children lost their lives due to encephalitis in last 48 hours at Gorakhpur’s BRD Hospital after Supply of liquid oxygen was disrupted yesterday due to pending payment.

योगी इससे पहले भी अपने निर्वाचन क्षेत्र के BRD अस्पताल में बच्चों की बड़ी तादाद में हुई मृत्यु पर घिरे थे. गोरखपुर में बच्चों ने अगस्त माह में ऑक्सीजन की कमी से दम तोडा था और इसके बाद यह खबर राष्ट्रीय स्तर पर चली थी. फिलहाल बच्चों के मृत्यु दर में अबतक कोई कमी नहीं आयी है जिसपर योगी की आलोचना की जा रही है.

योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या में भगवान् राम की विशालकाय मूर्ती के निर्माण की भी घोषणा की जिसकी लागत २०० करोड़ रूपए बताई जा रही है.

हालाँकि इन सब के बावजूद मुख्यमंत्री ने अयोध्या में पूरे हर्षोल्लास से दिवाली मनाई और उसके बाद गोरखपुर लौट आये. इस मौके पर उनके साथ गवर्नर राम नाइक भी मौजूद थे.

Advertisement