अपठित गद्यांश – स्वस्थ मानसिकता

Apathit Gadyansh with Answers in Hindi unseen passage 

स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मस्तिष्क का वास होता है। इसके लिए मनुष्य को मानसिक रूप से और शारीरिक रूप से दोनों ही प्रकार से स्वस्थ होना चाहिए । स्वस्थ मानसिकता ही स्वच्छ समाज को जन्म देती है। मनुष्य की शुध्द सोच नई खोजों को जन्म देती है । इसका असर केवल व्यक्ति विशेष पर ही नहीं वरन समाज, देश, जाति, सब पर समान रूप से पड़ता है और इसके लिए मनुष्य को पूर्णतया अपनी विचारधारा को विकसित करना होगा। पुरानी परंपराएँ एवं रूढ़ियों का त्याग करके नई विकास पध्दति को जन्म देना होगा।

उपर्युक्त अपठित गद्यांश के आधार पर निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर दीजिए –

प्रश्न (अ) उपर्युक्त गद्यांश का उचित शीर्षक लिखिए । प्रश्न (ब) विलोम शब्द लिखिए – शुध्द , स्वच्छ प्रश्न (स) स्वस्थ मस्तिष्क के लिए क्या होना आवश्यक है ? प्रश्न (द) उपर्युक्त गद्यांश का सारांश लिखिए । उत्तर – प्रश्न (अ) का उत्तर – स्वस्थ मानसिकता प्रश्न (ब) का उत्तर – शब्द विलोम शब्द शुध्द अशुध्द , स्वच्छ अस्वच्छ प्रश्न (स)का उत्तर – स्वस्थ मस्तिष्क के लिए स्वस्थ शरीर होना आवश्यक है । प्रश्न (द) का उत्तर – स्वस्थ मानसिकता स्वच्छ समाज, नई सोच की जननी है । इसका प्रभाव व्यक्ति के साथ -साथ समाज, देश और जाति पर पड़ता है । इसके लिए व्यक्ति को रूढ़ियों का परित्याग कर अपनी सकारात्मक सोच को विकसित करना चाहिए ।

अपठित गद्यांश के 50 उदाहरण

  • Apathit Gadyansh with Answers in Hindi Class 12
  • Apathit Gadyansh with Answers in Hindi Class 11
  • Apathit Gadyansh with Answers in Hindi Class 10
  • Apathit Gadyansh with Answers in Hindi Class 9
  • Apathit Gadyansh with Answers in Hindi Class 8
  • Apathit Gadyansh with Answers in Hindi Class 7
  • Apathit Gadyansh with Answers in Hindi Class 6
  • Apathit Gadyansh with Answers in Hindi Class 5