अशोभनीय व्यवहार के लिए क्षमा याचना मांगते हुए प्रधानाचार्य को पत्र लिखिए for class 6,7,8,9,10,11,12

Advertisement

Ashobhniya vyvahar ke liye kshama yachna mangte hue pradhanacharya ko patra  विषय पर विभिन्न कक्षाओं के छात्रों के लिए यहाँ पर पत्र लेखन के उदाहरण दिये गए हैं। पत्र लेखन के इन उदाहरणों के आधार पर आप विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में भी पत्र लेखन कर सकते हैं।

अशोभनीय व्यवहार के लिए क्षमा याचना मांगते हुए प्रधानाचार्य को पत्र लिखिए। (11-12)

परीक्षा भवन,
नई दिल्ली
दिनांक: 3-3-2021

विषय – अशोभनीय व्यवहार के लिए क्षमा याचना हेतु।

महोदय ,

Advertisement

मैं 11वीं कक्षा का छात्र मानवीर कल के अपने अशोभनीय व्यवहार के लिए आपसे क्षमा की प्रार्थना करता हूं। कल विद्यालय की छुट्टी के बाद घर लौटते समय मैं अपने सहपाठियों के साथ नुक्कड़ पर खड़ा था। मेरे कुछ साथी सिगरेट का कश खींच रहे थे और जुनून में मैं भी उसमें शामिल हो गया। तभी आपका भी उस सड़क से गुजरना हुआ लेकिन मैं अपनी ही धुन में मस्त रहा।

घर पहुंचने के बाद मुझे अपनी गलती का एहसास हुआ और मुझे लगा कि एक शिष्य के रूप में मेरा यह व्यवहार अत्यंत अशोभनीय था। इसलिए मैं अत्यंत खेद सहित आपसे इस व्यवहार के लिए क्षमा मांगता हूं, कृपया आप मुझे इस अशिष्टता के लिए क्षमा कर दें।

आपका आज्ञाकारी शिष्य,
अ, ब, स
कक्षा- 11वीं ‘ब’

अशोभनीय व्यवहार के लिए क्षमा याचना मांगते हुए प्रधानाचार्य को पत्र लिखिए। (9-10)

परीक्षा भवन,
अलीगढ़
दिनांक: 2-3-2021

Advertisement

विषय- अशोभनीय व्यवहार के लिए क्षमा याचना मांगते हुए आवेदन पत्र।

महोदय,

इस आवेदन पत्र के माध्यम से मैं कल के अपने अशोभनीय व्यवहार के लिए आपसे क्षमा मांगना चाहता हूं। कल मध्यावकाश में आप के प्रति मेरा व्यवहार अशोभनीय था। मध्यावकाश में मैं अपने साथियों के साथ खेल में व्यस्त था और आप विद्यालय निरिक्षण पर थे तभी किसी बात पर हमारी आपस में कहासुनी होने लगी। मैं उस समय इतने गुस्से में था कि आपका बीच-बचाव करना भी मुझे सुनाई नहीं दिया और मैं अपनी धुन में चीखता चिल्लाता रहा। मध्यावकाश के बाद कक्षा में मुझे अपने इस व्यवहार पर बहुत शर्मिंदगी महसूस हुई और मैं रात भर परेशान रहा।

अतः आपसे विनम्र निवेदन है कि आप मुझे क्षमा प्रदान करें। मैं आपसे वादा करता हूं कि इस घटना की पुनरावृत्ति नहीं होगी।

आपका आज्ञाकारी शिष्य,
अ ब स
कक्षा- दसवीं ‘ब’

अशोभनीय व्यवहार के लिए क्षमा याचना मांगते हुए प्रधानाचार्य को पत्र लिखिए। (6-8)

परीक्षा भवन,
नई दिल्ली
दिनांक: 2-3-2021

विषय- अशोभनीय व्यवहार के लिए क्षमा याचना हेतु।

महोदय ,

सविनय निवेदन है कि मैं आपके विद्यालय का आठवीं कक्षा का छात्र हूं। मैं कल की घटना के लिए आपसे क्षमा की प्रार्थना करता हूं। कल सातवें पीरियड में मैंने जो अशिष्टता दिखाई वह जानबूझकर नहीं बल्कि अनजाने में हुई। जब मैं पुस्तकालय से निकल रहा था तब मेरे हाथों में पुस्तके थी और साथ में मेरा एक मित्र भी था।

अचानक आपके सामने आ जाने से मै हिचकिचा गया। बातों में मशगूल होने के कारण मैंने आपके प्रति उदासीनता दिखाई और बिना उचित अभिवादन के मैं आगे बढ़ गया।

इस अशिष्टता का अनुभव मुझे तुरंत ही हो गया और बाद में मुझे बहुत पछतावा हुआ। इसके लिए मैं हृदय से आपसे क्षमा मांगता हूं। कृपया मुझे क्षमा कर दें।

आपका आज्ञाकारी शिष्य,
अ ब स
कक्षा – आठवीं ‘स’

Patra lekhan in Hindi Class 6
Patra lekhan in Hindi Class 7
Patra lekhan in Hindi Class 8
Patra lekhan in Hindi Class 9
Patra lekhan in Hindi Class 10
Patra lekhan in Hindi Class 11
Patra lekhan in Hindi Class 12

पत्र लेखन के विषय (patra lekhan topics in Hindi), पत्र लेखन प्रारूप Patra Lekhan Formats, औपचारिक पत्र Aupcharik Patra, अनौपचारिक पत्र  Anaupcharik Patra आदि के बारे में विस्तार से जानकारी के लिए यह पोस्ट पढ़ें:

पत्र लेखन PATRA LEKHAN | LETTER WRITING IN HINDI for FULL MARKS

औपचारिक एवं अनौपचारिक पत्र लेखन के 100 से अधिक उदाहरण 

आशा है कि अशोभनीय व्यवहार के लिए क्षमा याचना मांगते हुए प्रधानाचार्य को पत्र लिखिए विषय पर प्रस्तुत पत्र लेखन के उदाहरण आपके लिए उपयोगी सिद्ध होंगे। आप इन पत्रों में थोड़ी बहुत फेर-बदल कर मिलते जुलते विषयों पर पत्र लेखन के प्रश्न हल कर सकते हैं। इस पत्र लेखन से मिलते जुलते निम्न विषयों पर पत्र लेखन का अभ्यास आप कर सकते हैं जिनसे आपको परीक्षा में अच्छे अंक लाने में सहता मिलेगी जैसे – कक्षा में अनजाने हो गए अभद्र व्यवहार के लिए कक्षा अध्यापक से क्षमा याचना करते हुए पत्र लिखिए, अपनी भूल की क्षमा याचना करते हुए पिता को पत्र, मित्र को मनाने के लिए पत्र, विद्यालय के प्रधानाचार्य को विद्यालय देर से पहुंचने का कारण बताते हुए क्षमा-याचना- पत्र लिखिए।, खिड़की का शीशा टूट जाने पर क्षमा मांगते हुए प्रार्थना पत्र, मित्र को क्षमा पत्र, दंड माफी के लिए प्रार्थना पत्र, क्षमा-याचना के लिए कक्षा अध्यापिका को पत्र

कृपया अपने सुझाव हमें अवश्य भेजें।

Hindi Patra Lekhan Topics

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *