Advertisement

Jake panv na fati biwai vo kya jane peer parai लोकोक्ति (मुहावरे) का हिन्दी में अर्थ , meaning in Hindi

लोकोक्ति (मुहावरा) – जाके पांव न फटी बिवाई, वो क्या जाने पीर पराई

लोकोक्ति (मुहावरे) का हिन्दी में अर्थ – जिस मनुष्य पर कभी दुःख न पड़ा हो, वह दूसरों का दुःख क्या समझे

जाके पांव न फटी बिवाई, वो क्या जाने पीर पराई हिन्दी की एक प्रसिद्ध लोकोक्ति है जिसका प्रयोग अक्सर हिन्दी के लेख, निबंध आदि में किया जाता है।

जाके पांव न फटी बिवाई, वो क्या जाने पीर पराई लोकोक्ति (मुहावरे) का वाक्य प्रयोग :-

लोकोक्ति का वाक्य प्रयोग – दादी ने मुझसे कहा – बेटा, तुम पुरुष हो। नारी के दुःख को तुम कभी समझ ही न सकोगे। ‘जाके पांव न फटी बिवाई, वो क्या जाने पीर पराई’।

Advertisement

लोकोक्ति का वाक्य प्रयोग – अमन बेरोजगार तो है ही आर्थिक स्थिति भी तंग है। उसके चेहरे का भाव देखकर रमन ने जानना चाहा तो उसका कहना था जाके पांव न फटी बिवाई सो का जाने पीर पराई।

लोकोक्ति का वाक्य प्रयोग – पुत्र की मृत्यु का दर्द वही महसूस कर सकता है जो इस दर्द से गुज़रा हो वो कहावत है कि जाके पांव न फटी बिवाई सो का जाने पीर पराई।

हिन्दी की 1000 लोकोक्तियाँ – अर्थ, वाक्य प्रयोग 

कई बार लोग लोकोक्तियों (कहावतों) और मुहावरों को एक ही समझने की भूल कर बैठते हैं। मुहावरे और लोकोक्ति में अंतर को जानने के लिए इस लिंक पर जाएँ और मुहावरे और लोकोक्तियों का अंतर अच्छी प्रकार से समझें।

मुहावरे और लोकोक्ति में अंतर

Lokokti (Muhavra) – Jake panv na fati biwai vo kya jane peer parai

Lokokti (Muhavre)ka Hindi mein arth – jis manushy par kabhi duhkh na par ho, vah dusron ka duhkh ky samajhe

Jake panv na fati biwai vo kya jane peer parai Lokokti ka Vakya prayog

Advertisement

Meaning of Lokokti Kahavat Jake panv na fati biwai vo kya jane peer parai in English

जाके पांव न फटी बिवाई, वो क्या जाने पीर पराई कहावत का हिन्दी में अर्थ और वाक्य प्रयोग

यहाँ पर हमने इस लोकोक्ति (कहावत) के बारे में निम्न बातें समझाई हैं:-

जाके पांव न फटी बिवाई, वो क्या जाने पीर पराई in English ; जाके पांव न फटी बिवाई, वो क्या जाने पीर पराई sentence ; जाके पांव न फटी बिवाई, वो क्या जाने पीर पराई vakya prayog ; जाके पांव न फटी बिवाई, वो क्या जाने पीर पराई का वाक्य प्रयोग ; जाके पांव न फटी बिवाई, वो क्या जाने पीर पराई पर कहानी ; जाके पांव न फटी बिवाई, वो क्या जाने पीर पराई मुहावरे का अर्थ क्या होगा ; जाके पांव न फटी बिवाई, वो क्या जाने पीर पराई लोकोक्ति का अर्थ क्या होगा

विभिन्न कक्षाओं के लिए हिन्दी की कहावतों लोकोक्तियों की जानकारी के लिए इन लेखों को पढें:

Hindi Lokoktiyan for Class 5

Hindi Lokoktiyan for Class 6

Hindi Lokoktiyan for Class 7

Hindi Lokoktiyan for Class 8

Hindi Lokoktiyan for Class 9

Hindi Lokoktiyan for Class 10

10 प्रसिद्ध लोकोक्तियों का हिन्दी में अर्थ और वाक्य प्रयोग

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here