मनोज और मनुज में अंतर – श्रुतिसम भिन्नार्थक शब्द युग्म

Advertisement

मनोज और मनुज में क्या अंतर है – समोच्चरित भिन्नार्थक शब्द युग्म

मनोज का अर्थ – कामदेव

मनुज का अर्थ – मनुष्य

मनोज का वाक्य प्रयोग-

बसंत आते ही प्रकृति मनोज से प्रभावित जान पड़ती है।

Advertisement

मनुज का वाक्य प्रयोग-

कभी-कभी ईश्वर मनुज रूप धारण कर भक्तों का कल्याण करते हैं ।

manoj ka arth – kaamdev

manuj ka arth – manushya

Advertisement

मनोज और मनुज शब्द युग्म के बारे में विभिन्न परीक्षाओं में कई प्रकार से प्रश्न पूछे जाते हैं। जैसे –

मनोज का अर्थ, मनुज का अर्थ, मनोज और मनुज में अंतर बताइये, मनोज का वाक्य प्रयोग, मनुज का वाक्य प्रयोग, मनोज और मनुज श्रुतिसम भिन्नार्थक शब्द युग्म में अंतर स्पष्ट कीजिये, आदि।

समोच्चरित भिन्नार्थक शब्द युग्म की विस्तार से जानकारी के लिए निम्न पोस्ट पढ़ें :-

500 श्रुतिसम भिन्नार्थक शब्द युग्म

10 Important शब्द युग्म जो परीक्षा में पूछे जा सकते हैं।

Advertisement