Advertisements

प्रातःकालीन सैर के लाभों का वर्णन करते हुए अपने छोटे भाई को पत्र for 5,6,7,8,9,10

Pratekaalin sair ki labhon ka varnan karte hue apen chote bhai ko patra विषय पर विभिन्न कक्षाओं के छात्रों के लिए यहाँ पर पत्र लेखन के उदाहरण दिये गए हैं। पत्र लेखन के इन उदाहरणों के आधार पर आप विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में भी पत्र लेखन कर सकते हैं।

Advertisements

प्रातःकालीन सैर के लाभों का वर्णन करते हुए अपने छोटे भाई को पत्र लिखिए (9-10)

सहार रेज़िडन्सी,
ए डी ए कॉलनी,
अलीगढ़

दिनांक– 8/4/22

Advertisements

प्रिय अनुज,
स्नेह

हम सभी यहाँ स्वस्थ और सानंद है सदैव तुम्हारी कुशलता चाहते है। यह अत्यंत चिंतनीय विषय है कि तुम सुबह सुबह टहलने नहीं जाते हो ? कल जब मै बाजार से लौट रहा था तब तुम्हारा मित्र कमल मिला। उसने बताया कि तुम सुबह देर तक सोते हो और कम समय होने के कारण शीघ्र ही विद्यालय चले जाते हो। यह तुम्हें बीमार कर देगा और तुम पढ़ाई से वंचित रह जाओगे।

Advertisements

सुबह सुबह की सैर मनुष्य के लिए अत्यंत स्वास्थ्य वर्धक होता है। खुली हवा में सांस लेना आज की सबसे बड़ी पूंजी है। प्रदूषण के कारण चारों ओर जहरीली हवा फैल रही है पर वाहनों के न चलने के कारण सुबह की हवा बहुत ताजी होती है। इससे किसी तरह की कोई बीमारी नहीं होती। प्रातःकालीन भ्रमण हमें एक साथ कई बाते सिखाता है जैसे – समय पर काम करना , स्वस्थ और तंदुरुस्त रहना।

इसलिए मैं तुम्हें यह सलाह देता हूँ कि तुम प्रातः कालीन भ्रमण पर जाया करो। जब तुम्हारा मन प्रसन्न होगा तब तुम पढ़ाई भी बेहतर ढंग से करोगे।

शेष सब कुशल है। घर के सभी सदस्य तुम्हें प्यार भेज रहे है।

तुम्हारा भाई
रमेश

Advertisements

प्रातःकालीन सैर के लाभों का वर्णन करते हुए अपने छोटे भाई को पत्र लिखिए (7-8)

सहार रेज़िडन्सी,
ए डी ए कॉलनी,
अलीगढ़

दिनांक– 8/4/22

प्रिय अनुज
खुश रहो,

तुम्हारा पत्र मिला और यह जानकर बहुत प्रसन्नता हुई कि तुम्हारा परीक्षा परिणाम बहुत सुखद रहा। मंन कामना करता हूँ कि तुम आगे भी ऐसे ही सफलता प्राप्त करते रहो। इस पत्र को लिखने का एक विशेष उद्देश्य है। मुझे यह शिकायत मिली है कि आज कल तुम अपने स्वास्थ्य के प्रति बिल्कुल लापरवाह होते जा रहे हो। विद्यार्थियों के लिए पढ़ाई को प्राथमिकता देना अच्छी बात है लेकिन यह ध्यान रहे कि इससे स्वास्थ्य प्रभावित न हो। मै इस पत्र में तुम्हें बताऊँगा कि प्रातःकालीन सैर स्वास्थ्य के लिए अत्यंत लाभदायक होता है।

सुबह सुबह सैर को अपनी आदत में शुमार करो, इससे तुम स्वस्थ और तंदुरस्त रहोगे। प्रातःकालीन सैर से सबसे बडा लाभ यह है कि इससे हमे सुबह उठने की आदत लग जाती है और हमारा सारा कार्य समय पर होता है। सुबह की ताजी हवा में घूमने से हम ताजगी का अनुभव करते है और सभी कामों में हमारा मन लगता है।बड़े भाई के नाते मैं तुम्हें सलाह दे रहा हूँ एक बार इसे अपना कर देखो तुम्हें सब कुछ अच्छा लगेगा।

पढ़ाई के साथ साथ सेहत पर भी ध्यान देना तुम्हारी जिम्मेदारी है।

Advertisements

माँ और पिताजी तुम्हें आशीष दे रहे है।

तुम्हारा भैया
किशन

प्रातःकालीन सैर के लाभों का वर्णन करते हुए अपने छोटे भाई को पत्र लिखिए।(5-6)

सहार रेज़िडन्सी,
ए डी ए कॉलनी,
अलीगढ़

दिनांक– 8/4/22

प्रिय अनुज
खुश रहो,

मैं यहाँ कुशल से हूँ और तुम्हारी कुशलता की कामना करता हूँ। तुम पढ़ने में सदैव होशियार रहे हो। कभी कभी तो पढ़ाई के लिए तुम अपने खाने पीने का भी ध्यान नहीं रखते। यह बहुत अच्छी बात है कि तुम पढ़ाई के प्रति बहुत लगनशील हो लेकिन पढ़ाई के साथ – साथ अपने स्वास्थ्य पर भी ध्यान दिया करो। स्वास्थ्य सबसे बड़ी दौलत है।

अपने आप को स्वस्थ रखने के लिए सबसे सस्ता और सरल साधन है प्रातःकालीन सैर। सुबह सुबह टहलना एक अच्छा व्यायाम है। तुम विद्यालय जाने के समय से थोड़ी देर पहले उठकर इसे आसनी से अपना सकते हो। कल से ही इसे शुरू करो और मुझे यह बताना कि इससे तुम्हें क्या लाभ हुआ?

अपना ख्याल रखना, माँ पापा तुम्हें ढेरों प्यार भेज रहे है।

तुम्हारा बडा भाई
महेश

Patra lekhan in Hindi Class 6
Patra lekhan in Hindi Class 7
Patra lekhan in Hindi Class 8
Patra lekhan in Hindi Class 9
Patra lekhan in Hindi Class 10
Patra lekhan in Hindi Class 11
Patra lekhan in Hindi Class 12

पत्र लेखन के विषय (patra lekhan topics in Hindi), पत्र लेखन प्रारूप Patra Lekhan Formats, औपचारिक पत्र Aupcharik Patra, अनौपचारिक पत्र  Anaupcharik Patra आदि के बारे में विस्तार से जानकारी के लिए यह पोस्ट पढ़ें:

पत्र लेखन PATRA LEKHAN | LETTER WRITING IN HINDI for FULL MARKS

औपचारिक एवं अनौपचारिक पत्र लेखन के 100 से अधिक उदाहरण 

आशा है कि प्रातःकालीन सैर के लाभों का वर्णन करते हुए अपने छोटे भाई को पत्र विषय पर प्रस्तुत पत्र लेखन के उदाहरण आपके लिए उपयोगी सिद्ध होंगे। आप इन पत्रों में थोड़ी बहुत फेर-बदल कर मिलते जुलते विषयों पर पत्र लेखन के प्रश्न हल कर सकते हैं। इस पत्र लेखन से मिलते जुलते निम्न विषयों पर पत्र लेखन का अभ्यास आप कर सकते हैं जिनसे आपको परीक्षा में अच्छे अंक लाने में सहता मिलेगी जैसे – अपने पिताजी के स्थानांतरण पर नये विद्यालय में प्रवेश के लिये प्रार्थना पत्र लिखिए, टीसी के लिए आवेदन पत्र हिंदी में, स्कूल छोड़ने के लिए प्रमाण पत्र, नौकरी में स्थानांतरण हेतु आवेदन पत्र, स्थानांतरण प्रमाण पत्र हेतु आवेदन पत्र हिंदी में, कॉलेज छोड़ने के प्रमाण पत्र के लिए आवेदन, १२ वीं के बाद स्थानांतरण प्रमाण पत्र के लिए आवेदन, ट्रांसफर हेतु आवेदन पत्र

कृपया अपने सुझाव हमें अवश्य भेजें।

Hindi Patra Lekhan Topics

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisements