Rahim ke dohe सब को सब कोऊ करै, कै सलाम कै राम।

Rahim ke dohe in Hindi:

सब को सब कोऊ करै, कै सलाम कै राम।
हित रहीम तब जानिए, जब कछु अटकै काम।।

Sab ko san kou karai, kai salaam kai ram
Hit rahim tab janiye, jab kuchh atkai kam

रहीम के दोहे का अर्थ:

यूं तो सब एक दूसरे से दुआ सलाम व अभिवादन करते हैं, सम्मान दर्शाते हैं, किंतु कौन किसके प्रति सदय है, इसका अनुमान नहीं लग पाता। हां, यदि कठिन दौर में कोई सहायता करे तो उसे निस्संदेह सदय मानना चाहिए, वरना अभिवादन अथवा सम्मान दिखावे के अतिरिक्त और कुछ नहीं होते।

रहीम कहते हैं, सब लोग आदर सहित सबका अभिवादन करते हैं। कोई सलाम करता है, कोई राम राम कहता है। किंतु मन में किसी के प्रति कैसी भावनाएं हैं, इसे जानने का कोई जरिया नहीं होता। हितकारी उसे मानना चाहिए जो अटके हुए काम को संवार दे।

Rahim ke dohe रहीम के 25 प्रसिद्ध दोहे अर्थ व्याख्या सहित

25 Important परीक्षा में पूछे जाने वाले रहीम के दोहे :

अक्सर प्रतियोगी परीक्षाओं और विद्यालयी परीक्षाओं में रहीम के दोहे संबन्धित प्रश्न पूछे जाते हैं जिनमें मार्क्स लाना आसान होता है किन्तु सही जानकारी और अभ्यास के अभाव में अक्सर विद्यार्थी रहीम के दोहों के प्रश्न में अंक लाने में कठिनाई अनुभव करते हैं। हमने प्रतियोगी परीक्षाओं में पूछे जाने वाले रहीम के दोहों को अर्थ एवं व्याख्या सहित संग्रहीत किया है जिनका अभ्यास करके आप पूर्ण अंक प्राप्त कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *