रंग किस भाषा का शब्द है?

रंग मूल रूप से किस भाषा का शब्द है?

कोई भी भाषा समय के साथ साथ अन्य भाषा के शब्दों को अपना कर ही समृद्ध होती है और हिन्दी भी इसका अपवाद नहीं है। विदेशी भाषाओं से हिंदी में आये शब्दों को विदेशी शब्द कहा जाता है। इन विदेशी भाषाओं में मुख्यतः अरबी, फारसी, तुर्की, अंग्रेजी व पुर्तगाली शामिल हैं। इन भाषाओं के अनेकों शब्द हिन्दी भाषा में इस तरह से घुल मिल गए हैं कि उन्हें पहचानना कठिन है। जैसे कि यह बताना मुश्किल है कि – क्या रंग विदेशी भाषा का शब्द है? या यह पहचानना कि रंग कौन सी भाषा का शब्द है?

रंग कौन सी भाषा का शब्द है?

रंग शब्द फारसी भाषा से लिया गया है।

Rang kaun si bhasha ka shabd hai

Rang shabd Farsi bhasha se liya gaya hai.

विदेशी शब्द रंग का वाक्य प्रयोग – उसके चेहरे का रंग उतरने लगा है।

अंग्रेजी के शब्द – ब्रिटिश शासन के समय से भारत में आम बोलचाल की भाषा में अनेकों अंग्रेजी शब्द इस तरह घुल-मिल गए हैं कि उनकी हिन्दी खोजनी मुश्किल है। जैसे – कॉलेज (महाविद्यालय), पेंसिल (कलम), रेडियो (आकाशवाणी), टेलीविजन (दूरदर्शन), डॉक्टर (चिकित्सक), मशीन (यंत्र), सिगरेट (धूम्रपान शलाका), साइकिल (दुपहिया वाहन), स्टेशन (पड़ाव) आदि।

फारसी के शब्द – भारत की भाषा का नाम ‘हिन्दी’ भी एक फारसी शब्द है। मुगल कल में शासन की भाषा रही फारसी के बहुत से शब्द हिन्दी के ही हो गए हैं जैसे – अनार (दाड़िम), चश्मा (चक्षु यंत्र), जमींदार (बड़े भू-भाग का कृषक), दुकान (सामान क्रय-विक्रय स्थल), नमक (लवण), नमूना (उदाहरण), बीमार (रोगी), आदमी (मानव), गंदगी (अपशिष्ट)

अरबी के शब्द – अरबी भाषा हिन्द-यूरोपीय परिवार की प्रमुख भाषा है और इस्लाम के भारत में आगमन के साथ यहाँ आई। इसके अनेकों शब्द थोड़े बदलाव के साथ हिन्दी में बोले जाते हैं जैसे – औलाद (संतान), अमीर (धनी), कत्ल (हत्या), कलम (लेखनी), कानून (विधि), रिश्वत (घूस, उत्कोच), औरत (महिला), कैदी (कारगर में रखा गया आरोपी), गरीब (निर्धन) आदि।

उर्दू के शब्द – प्रचलित मान्यता के अनुसार उर्दू भाषा हिन्दी का वह रूप है जिसमें अरबी और फ़ारसी के शब्द अधिक हैं संस्कृत का प्रभाव नगण्य है। उर्दू दाएं से बाएं लिखी जाती है। भारत में उर्दू देवनागरी में भी लिखी जाती है। हिन्दी मीन सबसे अधिक उर्दू के ही शब्द घुले-मिले हुए हैं जैसे – अख़बार (समाचारपत्र) आवाज़ (ध्वनि), आराम (विश्राम), अफ़सोस (शोक), आदत (प्रवृति), इन्क़लाब (क्रान्ति), इमारत (भवन) आदि।

परीक्षाओं में अक्सर पूछे जाने वाले 10 प्रमुख विदेशी शब्द के उदाहरण:

2 thoughts on “रंग किस भाषा का शब्द है?

  1. हिन्दी अथवा संस्कृत में रंग का अर्थ फारसी वाले रंग (colour) के समान नहीं होता। जैसे कि “राजा यदि राग-रंग में खोया रहेगा तो प्रजा का ध्यान कौन रखेगा?” इस वाक्य से ज्ञात होता है।

  2. रंग एक संस्कृत शब्द है और इसका उल्लेख महाभारत, सुश्रुत और लतैत विस्तार जैसे साहित्यिक ग्रन्थों में मिलता है। बहुत संभव है फारसी ने भी इसे हिन्दी की तरह से संस्कृत से अपनाया हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *