Advertisements

संपादक का स्त्रीलिंग क्या होता है?

संपादक शब्द का स्त्रीलिंग बताइये

Advertisements

हिन्दी विषय की परीक्षा और प्रतियोगी परीक्षाओं में अक्सर स्त्रीलिंग और पुल्लिंग से संबन्धित प्रश्न पूछे जाते हैं। जैसे – संपादक का स्त्रीलिंग क्या होता है? यहाँ पर हमने व्याख्या सहित समझाया है कि पुल्लिंग शब्द से स्त्रीलिंग शब्द का निर्माण किस नियम के अनुसार हुआ है।

संपादक का स्त्रीलिंग क्या होता है?

संपादक शब्द का स्त्रीलिंग है – संपादिका

Advertisements

(संपादक + इका)

संस्कृत के कुछ संज्ञाओं में अन्तिम ‘अक’ को ‘इका’ करके स्त्रीलिंग बनाए जाते हैं ।

Advertisements

स्पष्ट है कि संपादिका का पुल्लिंग शब्द संपादक होगा।

Sampadak ka striling kya hota hai?

Sampadak ka striling hai – sampadika

spasht hai ki sampadika ka pulling Sampadak hoga.

परीक्षाओं में अक्सर पूछे जाने वाले 10 प्रमुख शब्दों के पुल्लिंग और स्त्रीलिंग रूप

[display-posts category_id=”2927″  wrapper=”div”
wrapper_class=”my-grid-layout”  posts_per_page=”10″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.