क्यों दिशाशूल देखना चाहिए यात्रा से पहले?

Yatra se pahle Dishashool kyon dekhna chahiye?

जब भी घर से हम किसी जरूरी काम के लिए निकलते हैं, उससे पहले अनेक शकुन व अपशकुनों का ध्यान रखते हैं। हमारे यहां यात्रा से जुड़ी कई मान्यताएं हैं। ऐसी ही मान्यता है कि बुधवार के दिन किसी तरह की यात्रा करना शुभ नहीं होता। इसलिए इस दिन यात्रा को टालना चाहिए।
ज्योतिष के अनुसार सप्ताह के हर दिन एक दिशाशूल होता है। जिस दिन जो दिशाशूल होता है, उस दिशा में यात्रा करने पर, जिस उद्देश्य से यात्रा की जाती है, वह पूरा नहीं हो पाता है। आर्थिक नुकसान होने की एवं एक्सीडेंट होने की संभावना अधिक होती है।
आइए जानते हैं किस दिन किस दिशा का दिशाशूल होता है – शनि एवं सोमवार को पूर्व दिशा, बुध एवं मंगल को उत्तर दिशा, गुरूवार को दक्षिण दिशा, शुक्रवार एवं रविवार को पश्चिम दिशा में यात्रा का त्याग करना चाहिए, अन्यथा असफलता एवं नाना प्रकार की बाधाएं उत्पन्न हो सकती है।